Saturday, June 15, 2024
छत्तीसगढ़ न्यूज़

क्वारंटाइन अवधि पूरी कर घर पहुंचने के बाद आ रही रिपोर्ट

जांजगीर-चांपा। Janjgir-Champa Coronavirus Update : क्वारंटइन सेंटर की अविध पूरी कर घर पहुंच जाने के बाद मजदूरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ रही है। जिले में अब तक क्वारंटाइन सेंटर से घर जाने के बाद 10 मजदूरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है। पांच दिन पूर्व पामगढ़ ब्लॉक के चोरभटठी गांव के क्वारंटाइन सेंटर के 9 मजदूरों की रिपोर्ट घर जाने के छह दिन बाद पॉजिटिव आई है । इसके बाद रविवार को मालखरौदा ब्लाक के अमलडीहा गांव के क्वारंटाइन सेंटर से अपनी घर जा चुकी महिला संक्रमित पाई गई। सैंपल की रिपोर्ट मजदूरों के घर पहुंच जाने के बाद पॉजिटिव आ रही है तो इससे संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ रहा है।

जिले के सभी 9 ब्लाक के ग्राम पंचायतों और नगरीय निकायों के स्कूलों और छात्रावासों को मजदूरों को रखने के लिए क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है। क्वारंटाइन सेंटर में दूसरे राज्योंसे आए मजदूरों को14 दिनों तक रखा जा रहा है। इस बीच स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा क्वारंटाइन सेंटर मेंरह रहे मजदूरों का सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा जा रहा है, लेकिन क्वारंटाइन अवधि पूरी हो जाने के बाद भी सैंपल की रिपोर्ट नहीं आ पा रही है।

वहीं उधर क्वारंटाइन का समय पूरा होने केबाद मजदूरों को घर जाने के लिए छूट्टी देदी जा रही है। छुट्टी होकर घर पहुंचने के चार- से पांच दिन के बाद मजदूरों की रिपोर्ट आ रही है जिसमें कई लोग कोरोना से संक्रमित पाए जा रहे हैं। पामगढ़ ब्लाक के चोरभठ्ठी के क्वारंटाइन सेंटर में गुजरात से आए मजदूरों को रखा गया था।

मजदूरों को 14 दिनों तक क्वारंटान में रखने के बाद घर भेज दिया गया था। मजदूरों का सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया था, लेकिन रिपोर्ट नहीं आई थी। बुधवार 3 जून की रात को इस क्वारंटाइन सेंटर के 9 मजदूरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद प्रशासन में हडकंप मच गया।

 

रात में ही स्वास्थ्य विभाग की 6 टीम बनाकर मजदूरों का लेने के लिए उनके गांव भेजा गया। मजदूरों को गांव से लाकर उन्हें कोविड अस्पताल इलाज के लिए भेजा गया। इसी प्रकार रविवार को मालखरौदा ब्लाक के अमलडीहा गांव के क्वारंटाइन सेंटर से अपनी घर जा चुकी एक महिला संक्रमित पाई गई।

इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा उसके साथ क्वारंटाइन में रहे सभी मजदूरों का और उसके संपर्क में आने वाले परिवार व गांव के अन्य लोगों का सैंपल लिया गया। क्वारंटाइन का समय पूरा करने के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद स्वास्थ्य विभाग केसाथ ही जिला प्रशासन की परेशानी बढ़ जा रही है।

 

ऐसे में उन सभी मजदूरों की पतासाजी करनी पड़ रही है जो संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए थे। रविवार को ही शिवरीनारायण के वार्ड 15 के क्वारंटाइन सेंटर हाईस्कूल में रह रहे एक मजदूर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, जबकि एक दिन बाद 14 दिन का क्वारंटाइन समय पूरी होने के बाद सेंटर के सभी मजदूरों को घर जाने के लिए छुट्टी देने की तैयारी थी।

35 सौ लोगों का भेजा सैंपल , 15 सौ की रिपोर्ट पेंडिग

 

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले से अब तक 35 सौ से अधिक लोगों का सैंपल लेकर जांच के लिए एम्स रायपुर, मेडिकल कॉलेज रायपुर और मेडिकल कॉलेज रायगढ़ भेजा जा चुका है। जिसमें से 15 सौ की रिपोर्ट आना बाकी है। एम्स रायपुर में 255 सैंपल भेजा गया था जहां की सभी रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग को मिल गई है।

विभाग द्वारा मेडिकल कॉलेज रायपुर और मेडिकल कॉलेज रायगढ़ जांच के लिए सैंपल भेजा जा रहा है। सीएमएचओ डॉ एसआर बंजारेका कहना है कि मेडिकल कॉलेज रायगढ़ में बिलासपुर, कोरबा, रायगढ़, जांजगीर, जशपुर सहित अन्य कई जिलों का सैंपल जांच केलिए भेजा जा रहा है जिसकी वजह से रिपोर्ट आने में विलंब हो रहा है।

जिले में चार और मिले कोरोना संक्रमित

जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। सोमवार को फिर जिले के तीन ब्लाक के क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे चार मजदूरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें तीन पुरूष और एक महिला शािमल है। जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल ने बताया कि डभरा के खुरघट्टी क्वारंटाइन सेंटर में एक, बम्हनीडीह के देवरी लखाली में 2 और जैजैपुर के कुटराबोड़ ओड़केरा क्वारंटाइन सेंटर के एक मजदूर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

जिले में अब संक्रमितों की संख्या 62 हो गई वहीं अब एक्टिव मरीजों की संख्या 48 पहुंच गई। सोमवार को फिर चार मजदूरों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने की सूचना मिलते ही स्वास्थ्य विभाग की टीम क्वारंटाइन सेंटर पहुंची और संक्रमित मजदूरों को लाकर इलाज के लिए कोविड अस्पताल भेजा गया।

” प्रदेश में केवल तीन स्थानों पर सैंपल की जांच हो रही है। लगातार सैंपल लेकर परीक्षण के लिए भेजे जा रहे हैं। सैंपल की संख्या अधिक होने के कारण रिपोर्ट देरी से आ रही है। कलेक्टर ने अब जब तक रिपोर्ट नहीं आ जाते तब तक क्वारंटाइन सेंटर से मजदूरों को छुट्टी नहीं देने का आदेश जारी किया है। 35 सौ से अधिक सैंपल जांच के लिए भेजा गया है जिसमें से 15 सौ की रिपोर्ट पेंडिग है। – डॉ एसआर बंजारे, सीएमएचओ, जांजगीर